Wednesday, February 8, 2023
Homeउत्तराखंडभाजपा ने दृष्टि पत्र से हर वर्ग को लुभाया - युवाओं,...

भाजपा ने दृष्टि पत्र से हर वर्ग को लुभाया – युवाओं, महिलाओं, पूर्व सैनिकों पर विशेष फोकस राज्य में पचास हजार नई नौकरियों का वादा, तीन सिलेंडर मिलेंगे मुफ्त

देहरादून। पहाड़ न्यूज रिपोर्टर

विधानसभा चुनावों के लिए भाजपा की ओर से जारी किए गए दृष्टि पत्र में युवाओं, महिलाओं, पूर्व सैनिकों और किसानों पर फोकस किया गया है। इस वर्ग के मतदाताओं को रिझाने के लिए पार्टी ने कई नई योजनाओं का ऐलान करने के साथ ही अनुदान और सब्सिडी का भी वादा किया है। इसके साथ ही राज्य के दुकानदारों, व्यापारियों, असंगठित श्रेणी के कर्मचारियों, सफाई कर्मचारियों और वरिष्ठ नागरिकों के लिए भी कई वादों की झड़ी लगाई गई है। कुल मिलाकर भाजपा ने अपने दृष्टि पत्र में हर वर्ग को जगह देकर चुनावों में साधने की कोशिश की है।

1- युवा
भाजपा के दृष्टि पत्र में युवाओं से पांच सालों में 50 हजार सरकारी नौकरियों का वादा किया गया है। पार्टी ने वादा किया है कि सरकारी विभागों में पदों को प्राथमिकता के आधार पर भरा जाएगा और 24 हजार नियुक्तियां सत्ता में लौटते ही देने का वादा किया गया है। इसके साथ ही युवाओं की रोजगार की समस्या के समाधान के लिए उद्योगों के जरिए राज्य में पांच लाख नए रोजगार सृजित करने का वादा भी किया गया है। इसके साथ ही राज्य के बेरोजगार युवाओं के लिए मुख्यमंत्री प्रशिक्षु योजना शुरू करने का वादा किया गया है। इसके तहत बेराजगारों को एक साल तक प्रतिमाह तीन हजार रुपये की राशि दी जाएगी। राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध कराने के लिए ग्राम सेवा समिति के जरिए 31 हजार 275 युवाओं को ग्राम प्रबंधन की नौकरी देने का वादा किया गया है। इसके तहत गांवों में पचास घरों के लिए उचित मानदेय पर एक ग्राम प्रबंधक की नियुक्ति की बात कही गई है। युवाओं के लिए नौकरी के अवसर बढ़ाने के लिए राज्य में एक कौशल प्रमुख की नियुक्ति की जाएगी जो राज्य में युवाओं के रोजगार और समग्र विकास के लिए कार्य करेगा। राज्य में युवा आयोग गठित करने के साथ ही लोक सेवा आयोग सहित राज्य के सभी आयोगों संस्थानों में भर्ती प्रक्रिया निशुल्क करने का वादा किया गया है। राज्य के सभी विवि और महाविद्यालयों में अउटसोर्स के माध्यम से शारीरिक शिक्षा और फिटनेस प्रशिक्षकों की भर्ती की बात कही गई है।

2- महिला
दृष्टि पत्र में महिलाओं के लिए अनेक ऐलान किए गए हैं। राज्य के सभी गरीब घरों में साल में तीन निशुल्क गैस सिलेंडर, निर्धन परिवार की महिला मुखिया को सहायता राशि, सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाली मैदानी क्षेत्र की नौंवी कक्षा की छात्राओं को मुफ्त साइकिल जबकि पर्वतीय क्षेत्र की छात्राओं को साइकिल के बदले 2850 रुपये देने, पर्वतीय जिलों की गर्भवती महिलाओं को 40 हजार रुपये का मातृत्व अनुदान, 30 वर्ष से अधिक आयु की सभी बीपीएल महिलाओं को अटल पेंशन योजना के दायरे में लाने, महिला स्वयं सहायता समूहों के लिए 500 करोड़ की निधि तैयार करने, महिला स्वयं सहायता समूह के जरिए गौरा देवी कैंटीन खोलने, विधवा पेंशन 1500 रुपये से बढ़ाकर 2000 रुपये करने और वृद्धावस्था पेंशन 1500 से बढ़ाकर 3600 करने का वादा किया गया है।

3- पूर्व सैनिक
पूर्व सैनिकों को रिझाने के लिए भाजपा ने पूर्व सीडीएस जनरल बिपिन रावत के नाम पर पूर्व सैनिक ग्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट बनाने का वादा किया है। इस ट्रस्ट के जरिए पूर्व सैनिकों को आसान ऋण दिए जाने की सुविधा दी जाएगी और पांच लाख तक के ऋण पर 50 फीसदी तक गारंटी कवर दिया जाएगा। शहीद सैनिकों के आश्रितों को अलग अलग श्रेणी में 35 लाख तक की अनुग्रह राशि देने, बलिदानी सैनिकों की बेटियों के लिए विवाह अनुदान राशि 25 हजार से बढ़ाकर दो लाख रुपये करने और यह लाभ शहीद सैनिक की दो बेटियों को देने का भी वादा किया गया है। दृष्ट पत्र में उपनल के जरिए नियुक्त पूर्व सैनिकों व सुरक्षा कर्मियों के लिए नई नीति लाने, बलिदानी सैनिकों के बच्चों के लिए छात्रवृत्ति में इजाफा करने, एकमुश्त वित्तीय अनुदान, प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे शहीदों के बच्चों के लिए कोचिंग के लिए पांच लाख तक का ब्याज मुक्त लोन देने का वादा किया गया है। दृष्टि पत्र में राज्य में भव्य सैन्यधाम का भी जिक्र की गई है।

4- किसान
किसानों के लिए दृष्टि पत्र में केंद्र की तर्ज पर सीएम किसान प्रोत्साहन निधि के रूप में दो हजार रुपये प्रति वर्ष देने का वादा किया गया है। यह राशि पीएम किसान निधि के तहत मिलने वाली सालान छह हजार की राशि से अलग होगी। किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए कृषि कल्याण बोर्ड बनाने का वादा किया गया है। डेयरी सहकारी समितियों की स्थापना के लिए 500 करोड़ के कोष का गठन किया जाएगा। आर्गेनिक मिशन की मजबूती के लिए 3500 गांवों को प्राकृतिक कृषि गांवों में बदलने की योजना शुरू होगी। सिंचाई सुविधा बढ़ाने के लिए राज्य में आठ हजार करोड़ का निवेश करने की बात कही गई है। सभी ब्लॉकों में कृषि उपकरण लीजिंग सेंटर बनाने, कृषि उपकरण खरीद पर सब्सिडी, राज्य में दो हजार एकीकृत आदर्श कृषि गांव बनाने, मनरेगा के तहत भूमिहीन मजदूरों को सुलर पालन, बकरी पालन, मतस्य पालन और पशुपालन के लिए 50 हजार रुपये तक की सहायता राशि देने का वादा किया गया है। साथ ही कृषि निर्यात नीति लाने, गोदाम बढ़ाने सहित कई वादे किए गए हैं।

5- वरिष्ठ नागरिक
दृष्टि पत्र में वरिष्ठ नागरिकों के लिए भी कई वादे किए गए हैं। इसमें वरिष्ठ नागरिकों की सेवा में श्रवण नामक दस हजार समर्पित स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का नया वर्ग बनाने, वृद्धावस्था पेंशन बढ़ाकर 3600 रुपये करने, चारधाम व देश के नामी तीर्थस्थलों की यात्रा के लिए वरिष्ठ नागरिकों के लिए रेलवे के सहयोग से योजना चलाई जाएगी जिसमें 10 हजार रुपये तक की सब्सिड़ी दी जाएगी। सभी पंजीकृत मंदिरों को रथ यात्रा व शोभा यात्रा, और ग्राम देवता मंदिरों को जात यात्रा के लिए 50 हजार रुपये अनुदान, लोक संगीत वादकों को प्रोत्साहन के लिए 3000 की मासिक सहायता, वाद्य यंत्रों के वादको व बाजीगरों को 60 साल बाद 5100 रुपये पेंशन देने की बात कही गई है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular