Saturday, October 1, 2022
Homeउत्तराखंडपत्रकार से विधायक बने उमेश कुमार के निर्वाचन को हाईकोर्ट में चुनौती,जानें...

पत्रकार से विधायक बने उमेश कुमार के निर्वाचन को हाईकोर्ट में चुनौती,जानें क्या है मामला

खानपुर से निर्दलीय विधायक उमेश शर्मा उर्फ उमेश कुमार के निर्वाचन को हाईकोर्ट नैनीताल में चुनौती दी गयी है। विधानसभा चुनाव 2022 में उमेश पर शपथपत्र में कई तथ्य छुपाने का आरोप लगाते हुये उनके शपथ लेने पर रोक रोकने की मांग की गयी है। होली पर अवकाश के बावजूद कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति संजय कुमार मिश्रा व न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी की खंडपीठ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये ‘अर्जेंट’ सुनवाई की।सुनवाई की अगली तारीख 23 मार्च तय की गयी है।

लक्सर निवासी वीरेंद्र कुमार और जनता कैबिनेट पार्टी की अध्यक्ष भावना पांडे ने खानपुर के निर्दलीय विधायक उमेश शर्मा द्वारा नामांकन में दिये गये शपथपत्र में कई जानकारियां छुपाने का आरोप लगाया है। याचिकाकर्ताओं की ओर से खंडपीठ को बताया गया कि उमेश शर्मा के खिलाफ विभिन्न न्यायालयों में विचाराधीन 29 आपराधिक मामले हैं, लेकिन उन्होंने अपने नामांकन में 16 मामलों की सूची ही शपथपत्र के साथ दी है। उन्होंने मुख्य अपराधों को छुपाया है, इसलिये उन्हें विधायक की शपथ लेने से रोका जाए। याचिका में मांग की गयी कि चुनाव आयोग को उमेश के खिलाफ जनप्रतिनिधि अधिनियम के तहत कार्रवाई के लिये निर्देशित किया जाए।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular