Saturday, October 1, 2022
Homeउत्तराखंडखिर्सू, विकासखण्ड पाबौ व विकासखण्ड नैनीडांडा में स्वास्थ्य मेलों का आयोजन हुआ

खिर्सू, विकासखण्ड पाबौ व विकासखण्ड नैनीडांडा में स्वास्थ्य मेलों का आयोजन हुआ

श्रीनगर : आजादी के अमृत महोत्सव के अर्न्तगत आज विकासखण्ड खिर्सू, विकासखण्ड पाबौ व विकासखण्ड नैनीडांडा में स्वास्थ्य मेलों का आयोजन किया गया। विकासखण्ड खिर्सू व पाबौ स्वास्थ्य मेलों में मुख्य अतिथि के रूप में कैबिनेट मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने प्रतिभाग किया जबकि नैनीडांडा में विधायक लैंसडौन महंत दिलीप रावत ने मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया। इस दौरान आयोजित स्वास्थ्य मेलों में स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों को सम्मानित किया। आयोजित स्वास्थ्य शिविर में विभिन्न विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीमों द्वारा लोगों का परीक्षण कर स्वास्थ्य सम्बन्धी परामर्श दिये गये। जिसमें स्थानीय लोगों के डिजिटल हेल्थ कार्ड आईडी, आयुष्मान कार्ड/गोल्डन कार्ड बनाने के साथ-साथ उच्च रक्तचाप, मधुमेह व कैंसर आदि की निशुल्क जाचें भी की गयी। स्वास्थ्य मेले में विभिन्न जनपद स्तरीय विभागों ने प्रतिभाग कर स्थानीय लोगों की समस्याओं का समाधान किया, जिसमें वृद्ध पेंशन, दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाने के साथ कोविड-19 विशेष टीकाकरण अभियान भी चलाया गया

इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने कहा कि इस तरह के स्वास्थ्य शिविरों के आयोजन से स्थानीय लोगों को लाभ मिलेगा। कहा कि उत्तराखण्ड में लगभग 115 स्थानों पर स्वास्थ्य मेलों का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ अन्य विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित होकर जन सामान्य की समस्याओं का निस्तारण कर रहे है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार इस तरह के अन्य जनोपयोगी कार्य लगातार कर रही है, जिससे जनता को भटकना नही पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि देश में आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर अलग-अलग कार्यक्रम आयोजित किए जा रहें है, जिसके तहत जनपद में विकासखण्डों में 18 से 22 अप्रैल तक स्वास्थ्य मेले आयोजित किये जा रहे है।

खिर्सू मे आयोजित शिविर में स्वास्थ्य विभाग व हंस फाउंडेशन की टीम ने कुल 271 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया, जिसमें 11 डिजिटल आई डी कार्ड, 7 दिव्यांग कार्ड, 15 आयुष्मान कार्ड, तथा 26 लोगों का वैक्सीनेशन किया गया। शिविर में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 86 तथा हंस फाउंडेशन की टीम ने 65 लोगों का रक्त परीक्षण किया।

नैनीडांडा में आयोजित स्वास्थ्य शिविर में स्थानीय विधायक महंत दिलीप रावत ने स्वास्थ्य कर्मियों को सम्मानित करते हुए कहा कि कोरोना काल में जब सभी अपने प्राण बचाने के लिए घरों में बैठे थे तब स्वास्थ्य कर्मियों ने अपने प्राणों की परवाह न करते हुुए देश को बचाने में अहम योगदान दिया था। कहा कि कोरोना में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कोरोना वारियर्स को बार-बार सम्मानित किया जाना चाहिए।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ प्रवीण कुमार, एसीएमओ डॉ रमेश कुंवर, प्रभारी चिकित्सक खिर्सू डॉ जिशान अली, सहित सम्बंधित अधिकारी, कर्मचारी व स्थानीय निवासी उपस्थित

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular